Alvitrips

Touris place, religious place, history, and biography information in hindi
लाला अमरनाथ की जीवनी – स्वतंत्र भारत क्रिकेट टीम के पहले कप्तान

लाला अमरनाथ की जीवनी – स्वतंत्र भारत क्रिकेट टीम के पहले कप्तान

लाला अमरनाथ का जन्म 11 सितंबर, 1911 को कपूरथला, पंजाब में हुआ था। लाला अमरनाथ ऐसे प्रथम भारतीय क्रिकेटर है, जिन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच में शतक लगाया था। स्वतंत्र भारत के वे पहले टेस्ट कप्तान बने। उनका पूरा नाम अमरनाथ भारद्धाज है, परंतु वह लाला अमरनाथ के नाम से ही ज्यादा लोकप्रिय थे। अमरनाथ से एक और महत्वपूर्ण उपलब्धि जुडी हुई है। उन्हीं की कप्तानी में भारत ने अपनी पहली टेस्ट सीरीज जीती थी। यह सीरीज 1952 में पाकिस्तान के विरूद्ध खेली गई थी। अमरनाथ जी ने गुजरात, हिंदू, महाराजा पटियाला, रेलवे, उत्तर प्रदेश तथा भारतीय टीमों के लिए क्रिकेट खेला।

लाला अमरनाथ का जीवन परिचय स्वतंत्र भारत क्रिकेट टीम के प्रथम कप्तान


लाला अमरनाथ क्रिकेट की दुनिया में चर्चा में तब आए जब उन्होंने 1933 में बम्बई जिमखाना में खेलते हुए इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट मैच में शानदार शतक लगाया। यह उनका पहला टेस्ट मैच था। किसी भारतीय द्वारा टेस्ट शतक लगाए जाने उन्होंने भारतीय खिलाड़ी की नई आक्रामक झलक प्रस्तुत की, जो कि अपारम्परिक थी। उस वक्त जब भारत के 21 पर दो खिलाड़ी आउट हो चुके थे, तब अमरनाथ ने स्थिति को न केवल संभाला, बल्कि टीम को अच्छी स्थिति में ले गए और 117 मिनट में 100 रन बना डाले।

लाला अमरनाथ
लाला अमरनाथ


वे पूरी तरह स्वतंत्र और स्पष्टवादी व्यकतित्व के मालिक थे। और वे अचानक और तेजी से बनाए जाने वाले रनों के लिए भी प्रसिद्ध रहे। 1936 में उनकी स्पष्टवादिता और खुलकर बोलने के कारण उन्हें इंग्लैंड के दौरे से वापस भेज दिया गया क्योंकि उस वक्त के कप्तान के विरूद्ध उन्होंने कुछ कह डाला था।

द्वितीय विश्वयुद्ध के कारण अमरनाथ के खेलने के सबसे महत्वपूर्ण साल बेकार चले गए। वैसे विश्वयुद्ध के कारण अन्य क्रिकेटरो के भी दो साल खराब हुए थे। अमरनाथ ने अपना चौथा टेस्ट मैच उनके पहले टेस्ट से 13 साल के अंतराल के बाद खेला जो 1946 में इंग्लैंड में था। स्वतंत्र भारत में वे भारतीय क्रिकेट टीम के पहले कप्तान बने थे। 1947 में उनकी कप्तानी में आस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच खेले गए। इसके बाद उन्होंने विश्व की पहले दर्जे की टीमों के साथ खेलते हुए कुछ बेहतरीन शॉट्स देते हुए अच्छा प्रदर्शन किया।

1951-52 में इंग्लैंड के विरुद्ध खेलते हुए अमरनाथ अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके। अतः अच्छी फॉर्म में न होने के कारण उन्हें कप्तानी से हाथ धोना पड़ा। 1952-53 में उन्हें पाकिस्तान के विरूद्ध सीरीज खेलने के लिए कप्तान बनाया गया और भारतीय टीम ने यह सीरीज जीती। उन्होंने कुल 24 टेस्ट मैच खेले, जिनमें उन्होंने 878 रन बनाए जिनका औसत 24.38 रहा। उन्होंने अपने पहले मैच में शतक भी लगाया था जो उनके रनों का सर्वाधिक स्कोर रहा। 5 अगस्त 2000 को लाला अमरनाथ की मृत्यु हो गई।

खेल जीवन की महत्वपूर्ण उपलब्धियां


• अमरनाथ पहले भारतीय क्रिकेटर है जिन्होंने टेस्ट मैच में शतक लगाया।
• अपने पहले टेस्ट मैच में शतक लगाने वाले अमरनाथ पहले क्रिकेटर थे।
• स्वाधीन भारत में वे भारतीय क्रिकेट टीम के पहले कप्तान बने।
• उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने पहली बार टेस्ट सीरीज जीती।
• लाला अमरनाथ ने 24 टेस्ट मैचों में 878 रन बनाएं, जिनमे उनका शतक भी शामिल है

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.