Alvitrips

Touris place, religious place, history, and biography information in hindi

इंदौर पर्यटन स्थल – इंदौर के टॉप 10 दर्शनीय स्थलो की रोचक जानकारी

इंदौर मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा शहर है। जो सरावती नदी और खान नदी के तट पर स्थित है। इंदौर को मध्य प्रदेश राज्य में सबसे नियोजित शहर माना जाता है। यह शहर इतिहास और वास्तुकला में अहम है। इंदौर की भूमि को मध्य प्रदेश की ‘वाणिज्यिक राजधानी’ भी कहा जाता है। प्रकृति प्रेमी या वास्तुकला में रूची रखने वाले पर्यटको के लिए इंदौर पर्यटन स्थल की स्वर्ग से कम नही है। इंदौर के पर्यटन स्थल प्रशंसा, आनंद, सीखने और खोलने का स्थान है। इंदौर की यात्रा या इंदौर भ्रमण के दौरान हम इंदौर पर्यटन स्थल में से हम यहा इंदौर के टॉप 10 दर्शनीय स्थलो के बारे में जानेगें।

 

इंदौर पर्यटन स्थल – इंदौर टूरिस्ट पैलेस

 

इंदौर के टॉप 10 दर्शनीय स्थल

 

 

इंदौर पर्यटन स्थल के सुंदर दृश्य
इंदौर पर्यटन स्थलो के सुंदर दृश्य

 

 

 

केंद्रीय संग्रहालय

इंदौर में केंद्रीय संग्रहालय इंदौर पर्यटन स्थल में सबसे अधिक बार देखा जाने वाले स्थलों में से एक है। इसे इंदौर संग्रहालय भी कहा जाता है। इसमें संग्रह की एक समृद्ध श्रृंखला है जो 5000 ईसा पूर्व की है। इसमें दो दीर्घाएं हैं। एक प्रागैतिहासिक काल से संबंधित कलाकृतियों और दूसरी गैलरी में नक्काशी है जो हिंदू पौराणिक कथाओं को दर्शाती है। मूर्तियां और अन्य संग्रह भूमि के इस हिस्से में उगने वाली विभिन्न संस्कृतियों में अंतर्दृष्टि देते हैं। यहां एक दिलचस्प संग्रह गणपति मूर्ति है, जो कि 8 मीटर की ऊंचाई पर भगवान गणपति की दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति है। केंद्रीय संग्रहालय इतिहास में रूची न रखने वाले लोगों की पसंदीदा जगह भले ही न हो, लेकिन जो लोग इतिहास से प्यार करते हैं और अतीत की कलाकृतियों के बारे में भावुक हैं,यह संग्रहालय उनके लिए इंदौर यात्रा की सूची में नंबर एक स्थान पर है।

 

लाल बाग पैलेस

लाल बाग पैलेस निस्संदेह इंदौर में सबसे खूबसूरत महल है। लाल महल का निर्माण वर्ष 1886 में शुरू हुआ और यह 1921 में पूरा हो गया। महल की वास्तुकला यूरोपीय शैली से प्रभावित है और इसमे विभिन्न अवधि से संबंधित शैलियों का मिश्रण है। इस प्रभावशाली महल के द्वार इंग्लैंड में डाले गए थे और वे बकिंघम पैलेस के द्वार की प्रतिकृति हैं। इसके अंदरूनी हिस्से के प्रत्येक इंच में गुणवत्ता पूर्वक कलाकारी है। अतीत और वर्तमान के प्रागैतिहासिक कलाकृतियों, चित्रों और मूर्तियों को यहां देखा जा सकता है। इंदौर पर्यटन स्थल में लाल महल अपनी अलग ही पहचान रखता है।

 

पाताल वाटर फाल

पाताल वाटरफॉल इंदौर का एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है, जो इंदौर से 36 किमी दूर स्थित है। यहा पानी 200 से 300 फीट की ऊंचाई से गिरता है। घने जंगलों और घाटी के साथ यहा की सुंदरता लुभावनी हैं। यह ट्रेक करने के लिए एक उपयुक्त जगह है लेकिन आपको बरसात के मौसम के दौरान बहुत सावधान रहना होगा। चूंकि जल प्रवाह अत्यधिक अप्रत्याशित होता है, स्थानीय गाइड की सेवाओं का लाभ उठाते हए यहां यात्रा करना सबसे अच्छा है।

 

पिपलियापाला क्षेत्रीय पार्क

पिपलियापाला क्षेत्रीय पार्क प्रकृति प्रेमियों के लिए एक आदर्श गंतव्य है। सुंदर मुगल, फ़्रेंच और जैव-विविधता उद्यान और यहां फव्वारे की एक विस्तृत श्रृंखला जगह की तस्वीर को सही बनाती है। परिसर के अंदर एम्फीथिएटर में आयोजित नाटकीय गतिविधियां कभी आपको प्रभावित करने में विफल नहीं होतीं। यहा नौकायन सुविधाएं भी उपलब्ध हैं। इंदौर पर्यटन स्थल में यह पार्क काफी फैमस स्थान है। इंदौर भ्रमण पर आने वाले सैलानी यहा का दौरा करना पसंद करते है।

 

राजवाडा पैलेस

दो शताब्दियों पहले निर्मित, राजवाड़ा पैलेस पिछले युग की स्थापत्य भव्यता का एक अच्छा नमूना है। मराठा साम्राज्य के होलकर द्वारा निर्मित यह इमारत मुगल, फ्रेंच और मराठा वास्तुकला शैलियों का एक मिश्रण है। सात मंजिले इस महल के दो भाग हैं,पहला शहर के केंद्र में और दूसरा पुराना शहर है। तीन निचली मंजिले पत्थर की हैं और शीर्ष मंजिल लकड़ी की हैं। इस महल का कई बार निर्माण किया गया आखिरी पुननिर्माण 1984 में किया गया था

 

इंदौर पर्यटन स्थल के सुंदर दृश्य
इंदौर पर्यटन स्थलो के सुंदर दृश्य

 

रलामंदाल वन्यजीव अभयारण्य

5 वर्ग किमी के क्षेत्र को कवर करते हुए, रलामंदाल वन्यजीव अभयारण्य पर्यटकों को वनस्पतियों और जीवों की समृद्ध किस्मों के साथ आकर्षित करता है। अभयारण्य 1989 में स्थापित किया गया था। पहाड़ी क्षेत्र और लुभावनी घाटियों के साथ पूरी तरह से सुरम्य वातावरण में स्थित, अभयारण्य प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग है। यदि आप ट्रेकिंग करने के लिए तैयार हैं, तो आप ट्रेकिंग द्वारा पहाड़ी की चोटी तक पहुंच सकते हैं। यदि नहीं, तो आप सड़क के माध्यम से एक आरामदायक ड्राइव ले सकते हैं। यहां पाए गए कुछ जंगली जानवरों में सांभर, तेंदुए, भौंकने वाले हिरण और काले हिरन शामिल हैं। सबसे लोकप्रिय पेड़ों में बबुल बांस, नीलगिरी और टीक शामिल हैं। पहाड़ी की चोटी पर किला 17 वीं शताब्दी में एक शिकार स्थल के रूप में इस्तेमाल किया गया था। यह इंदौर पर्यटन स्थल में ट्रैकिन के शौकिनो की पसंदीदा जगह है

 

टिनचा फाल

टिनचा फाल की इंदौर से दूरी लगभग 25 किलोमीटर है। यहा 300 फीट की ऊंचाई से गिरने वाले पानी की सुंदरता लुभावनी है। जो निकट स्थित तालाब में सुंदरता जोड़ता है, ऊंचांई से तेजगति के साथ गिरता हुआ पानी दूध की धाराओं जैसा दिखता है। यदि आप यहां गैर-बरसात के मौसम के दौरान हैं तो आप यहां तालाब में तैर सकते हैं। हालांकि, फॉल्स के उत्कृष्ट दृश्यों का आनंद लेने के लिए, आपको बरसात के मौसम के आसपास आने की जरूरत है।

 

इंदौर व्हाइट चर्च

इंदौर व्हाइट चर्च वर्ष 1858 में बनाया गया था और यह मध्य भारत में सबसे पुराना चर्च है। इसे पहले सेंट एन चर्च कहा जाता था। चर्च यूरोपीय वास्तुकला का एक अच्छा नमूना है। मन की शांति के लिए यहा के शांत और धार्मिक माहौल में एक अच्छा अनुभव किया जा सकता है। यह चर्च इंदौर पर्यटन स्थल में एक ऐतिहासिक इमारत है।

 

हमारे यह लेख भी जरूर पढे:– 

ओंकारेश्रवर ज्योतिर्लिंग

पंचमढ़ी के दर्शनीय स्थल

बैंगलोर के दर्शनीय स्थल

जबलपुर के पर्यटन स्थल

ताज उल मस्जिद भोपाल

 

 

गोमैगीरि
गोमैगीरि एक छोटी पहाड़ी पर जैन धर्म के अनुयायियों के लिए एक तीर्थ स्थल है। जो यहां स्थित 24 संगमरमर मंदिरों के लिए जाना जाता है। जैन धर्म के अनुयायी यहा प्रार्थना करने के लिए जाते हैं। यहा 21 फीट गोमेतेश्वर मूर्ति श्रवणबेलगोला में बहुबाली मूर्ति की एक प्रतिकृति है। यहा का शांत वातावरण आपको आनंद देता है। यहां से इंदौर शहर के सुंदर दृश्य काफी अच्छे दिखाई पडते हैं। यहा बच्चो को विमानो को उडान भरते हुए और उतरते हुए देखना बहु भाता है क्यो यहा पास ही में इंदौर अतंर्राट्रीय हवाई अड्डा है।

 

कांच मंदिर

पूरी तरह से कांच से बाहर बनाया गया, यह जैन मंदिर जैन धर्म के विभिन्न पहलुओं को दर्शाते हुए ग्लास पैनलों पर उत्कृष्ट कलाकृति प्रदर्शित करता है। ग्लास पर जटिल विवरण कलाकारों की प्रतिभा और समर्पण को दर्शाता है।

 

इंदौर पर्यटन स्थल, इंदौर के दर्शनीय स्थल, इंदौर की सैर, इंदौर यात्रा, इंदौर भ्रमण, इंदौर में घुमने लायक जगह आदि शीर्षको पर आधारित हमारा यह लेख आपको कैसा लगा आप हमे कमेंट करके जरूर बताए। यह जानकारी आप अपने दोस्तो के साथ सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते है।

Leave a Reply